गलती से भी न लगायें घर में पितरों या पूर्वजों की ऐसी फोटो वरना भुगत सकते हैं भारी नुकसान

अक्सर हमे वास्तु ज्ञान नहीं होने के कारण हम अपने पितरो की फोटो घर में ऐसी जगह लगा देते है जो शास्त्र के अँसुअर बिलकुल गलत मानी जाती है. और फिर उसी वजह से हमे पितृ दोष भी लगता है और घर में परेशानियाँ, लड़ाई झगड़े, और धन की कमी ऐसी समस्या आने लगती है. आज हम आपको घर के उन्ही विशेष स्थान के बारे में बताने जा रहे है जहा आपको भूल से भी आपने पूर्वज पितरो की फोटो नहीं लगानी है वरना आपको तो नुक्सान होगा ही साथ ही साथ आपके पितरो पर भी इससे कष्ट आता है. तो चलिए दोस्तों शुरू करते है .

हर कोई अपने घर को सजाने के लिए अनेक तरह के उपाय करता है. हर चीज़ की सफाई तथा चीज़ो को सही जगह पर रखना बहुत जरूरी है क्योकि इससे हमारे घर पर सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है. ऐसे में हम घर को सजाने के लिए और घर की दीवारों पर तस्वीर भी लगाते है. ज्योतिष और वास्तु दोनों के ही अनुसार बताया गया है की घर में लगी इन तस्वीरों का भी हमारे जीवन में बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है. परिवार के सदस्यों, उनकी मानसिकता और उनके कार्यो पर इसका असर सीधे सीधे देखा जा सकता है. इसलिए हमें अपने घर में कुछ ऐसे फोटो को लगाने से बचना चाहिए जो हमारे लिए दुःख और कष्ट लेकर आते है . क्योकि भले ही हम कितनी भी पूजा पाठ करे या उपाय परन्तु ये जो छोटे छोटे फोटो या मूर्ति जो घर में रखी होती है निगेटिविटी हमारे घर में भरते ही रहते है और हम इससे अनजान रहते है. अक्सर देखा जाता है की कई लोग अपने घर की दीवार को सजाने के लिए डूबती हुई नाव की तस्वीर वाली फोटो लगा देते है. ऐसी फोटो हमे घर पर बिलकुल भी नहीं लगानी चाहिए क्योकि यह हमे अंदर ही अंदर जब भी हमे इसे देखते है तो गहरा प्रभाव हम पर डालता है. क्योकि ऐसी जो भी फोटो होती है वह हमारे लिए भाग्य से संबंधित बढ़ाये उतपन्न करने लगती है. घर में परिवार में तनाव बढ़ता रहता है और हम समझ भी नहीं पाते है. क्योकि यह हमारे जीवन में वास्तु दोष उतपन्न करता रहता है.
दोस्तों भगवत गीता की बुक पढ़ना तो काफी अच्छी बात होती है परन्तु वही महाभारत युद्ध की फोटो को लगाना बहुत ही गलत होता है क्योकि यह हमारे सोच को आक्रमक बनाती है. युद्ध की कोई भी फोटो हो चाहे वह रामयण की फोटो हो राम रावण के युद्ध करते समय की फोटो या फिर आप महाभारत का युद्ध ले लीजिये , या फिर झांसी की रानी का ही ले लीजिये इन सभी फोटो को घर में लगाने से घर के सदस्यों का स्वभाव गुस्से वाला तथा आक्रमक होने लगता है. और महाभारत का युद्ध पारिवारिक तनाव की वजह से ही हुवा था इसलिए महाभारत के युद्ध के चित्र आपको नहीं लगाने चाहिए. इसी तरह से बहुत से लोग पोस्टर लगा लेते है अपने बैड के पीछे या कहि भी .

फवारे की, पानी की , इस प्रकार की तस्वीरें देखने में तो बहुत सुन्दर होती है. आकर्षक भी होती है. और सभी इसको घर पर लगा लेते है. लेकिन आपको बता दू की फव्वारे की फोटो आपको कभी भी घर पर नहीं लगानी चाहिए. क्योकि जिस प्रकार फवारे का पानी बहता है उस प्रकार धीरे धीरे आपके घर का धन भी बह जाता है यानी काम होने लगता है. घर में ऐसी तस्वीर आपको लगाने से बचना चाहिए . और कभी भी जंगली और हिंसक जानवरो की फोटो भी आपको नहीं लगानी चाहिए. क्योकि घर में लगी इनकी फोटो हर रोज देखने से हमारा स्वभाव भी हिंसक होने लगता है. इससे घर में क्लेश और अशांति बढ़ने लगती है. अब बात आती है की फिर घर में कौन सी ऐसी फोटो लगाए जिससे घर में शांति हो , घर में सकरात्मक ऊर्जा आती हो. दोस्तों आप चाहे तो अपने घर परिवार की फोटो लगा सकते है . अपने जो पितृ है जो पूर्वज है उनकी फोटो लगाए , लव बर्ड्स आदि की फोटो लगाए . खूबसूरत पिक्चर लगाए, जिनमे गहराई हो . इस प्रकार के चित्र लगाने से आपके घर में शांति और सुख का माहौल रहता है.

दोस्तों बात करते है पितरो और पूर्वजो की फोटो या परिवार की ही फोटो घर पर कहा लगाए. दरअसल दोस्तों वास्तु में पितरो, पृवजो तथा परिवार की फोटो लगाने के कुछ जरूरी नियम होते है . और उस तरह लगाई गई फोटो घर में सुख शांति देते है. परन्तु यदि इन्हे गलत जगह पर हम लगाते है तो यह हमारी घर की खुसियो को ले डूबते है. परन्तु उससे पहले में आपको बता दू की यदि आप अपने घर में अपना वैवाहिक जीवन सुखमय बनाना चाहते है तो अपने बैडरूम में आप राधा कृष्ण की फोटो अवश्य लगाए. इससे पति पत्नी के बिच में प्यार का रिश्ता और भी अधिक गहरा होता है. यदि आप धन की कामना करते है तो घर की जो उत्तर दिशा है वहा पर लक्ष्मी माता की, कुबेर देवता की इनकी फोटो आपको लगानी चाहिए . इससे घर में धन का आवगमन रहता है. जो लोग अपने कॅरियर में सफलता चाहते है वह अपने कमरे में उत्तर दिशा की तरफ . तैरती हुई मछलियों या फिर पानी से बहार उछलती हुई डॉल्फिन की फोटो लगाए .

अक्सर हम में से बहुत से लोग यह गलती करते है की जब वह भगवान की तस्वीर लगाते है तो साथ ही में पूर्वजो की तस्वीर भी लगा देते है. हम यह समझ सकते है की मृत सदस्य आपके लिए सम्मानित होते है भगवान के समान ही वह आपके लिए पूजनीय होते है. परन्तु वास्तु की माने तो भूल से भी हमें अपने पृवजो की तस्वीर घर के मंदिर में नहीं लगानी चाहिए. यदि आप पूजा घर में अपने मृत परिवार के सदस्यों की फोटो लगाते है तो इससे आप सीधे सीधे अपने दुर्भाग्य और दुःख को अपने घर निमंत्रण दे रहे हो . घर वालो की तस्वीर लगाने के लिए वास्तु में ख़ास दिशा निर्धारित है और आप केवल उसी दिशा में फोटो लगा सकते है. ऐसा करने से परिवार में प्यार बना रहता है. यदि आप आने परिवार की जीवित सदस्यों की फोटो लगाना चाहते है तो घर की उत्तर दिशा या पूरब दिशा .. या उत्तर पूरब दिशा सबसे श्रेष्ठ है. ये दिशा करीबी रिश्तेदारों की फोटो लगाने के लिए सबसे फायदेमंद होती है. इसके अल्वा घर की किसी भी दिशा में आप अपने परिवार की फोटो ना लगाए . और जो भी परिवार के सदस्य गुजर गए है हमारे बड़े बुजुर्ग जो स्वर्ग सिधार चुके है .

उनके लिए आपको घर की दक्षिण दिशा और पश्चिम दिशा या दक्षिण पश्चिम दिशा इन दिशाओ पर ही अपने मृत परिजनों की फोटो आपको लगानी चाहिए . और दोस्तों यह ध्यान रखे की क्यों हमारे हिन्दू धर्म में हमारे पूर्वज एवं पितरो की तस्वीर भगवान के साथ नहीं लगाई जाती है . क्योकि जब इंसान की मृत्यु होती है तो उसकी आत्मा शरीर छोड़कर दूसरी शरीर में चले जाती है . और सिर्फ आत्मा की ही पूजा करते है शरीर की नहीं . इसलिए जब शरीर का दाह संस्कार कर दिया जाता है तो मृत व्यक्ति की पूजा भगवान के साथ भूल कर भी नहीं करना चाहिए . क्योकि यह भगवान की निंदा मानी जाती है . इसलिए आप भी अपने पूर्वजो की इधर उधर तस्वीर रखते है. तो बातो को आप गाँठ बाँध ले. वरना आपको नुक्सान हो सकता है. दोस्तों यदि आपको ऐसी फोटो से जुडी कोई जानकारी चाहिए तो आप अपने सवाल हमे कमेंट बॉक्स में कर सकते है. हम उसका जवाब अवश्य देंगे.