आखिर क्यों एक बेबस महिला को अघोरी ने बनाया अघोरन, अब श्मशान घाट में करती है ये काम

Deal Score0
Deal Score0

हेलो दोस्तों आपका हमारा यूट्यूब चैनल में स्वागत है। आज हम आपके लिए लेकर आए हैं अघोरी दुनिया से जुड़ी एक ऐसी कहानी जिसे जानने के बाद आपके होश उड़ जाऐगें।

दोस्तों, आपने अघोरी बाबाओं के बारे में अक्सर सुना होगा, लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है कि, एक बेबस महिला रातों-रात श्मशान घाट में जाकर अघोरी महिला बनीं।आखिर क्या थी इसके पीछे की वजह। ये आपको हम इस वीडियो में बताएंगें। दरअसल, ये कहानी मध्यप्रदेश के एक छोटे से गांव की है। जहां पर एक महिला अपने परिवार के साथ खुशहाली जीवन व्यतीत कर रही थी। साथ ही वह हनुमान जी की परम भक्त थी। उसका मानना था कि, बजरंगबली उसकी हर मनोकामना को पूर्ण करते हैं व उसके साथ कभी गलत होने नहीं देगें। इन सभी बातों पर यकीन रखकर वह हनुमान जी की दिन-रात पूजा पाठ करती थी, लेकिन एक दिन उसकी जिंदगी में इतना बुरा समय आया कि, उसने हर चीज़ का त्याग कर दिया। एक बार उस महिला का पति हनुमान जयंती के दिन महेंदीपुर बालाजी जाने लगा। वह भी हनुमान जी को मानता था। ऐसे में वह बालाजी मंदिर अपने दोस्तों के साथ जाने लगा। वह सभी मिलकर एक कार से बालाजी मंदिर गये, लेकिन उन्हें क्या पता था कि, यह उनका आखिरी सफर होगा।

5 दिन गुजर जाने के बाद उस महिला ने सभी को इक्ट्ठा किया और सबके बारे में पूछा कि, अभी तक कोई क्यों नहीं वापिस आया। जिसके बाद सभी उनके लिए परेशान होने लगे और उसके अगले ही दिन खबर मिली कि, उनकी गाड़ी का एक पहाड़ी इलाके में एक्सीडेंट हो गया और उन सब की मौत हो गई। यह सदमा उस महिला के लिए बर्दाश्त करना संभव नहीं था, लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया वैसे-वैसे उस महिला के हालात खराब होते चले गये। वह ज्यादा पढ़ी-लिखी नहीं थी। जिस वजह से वह कहीं अच्छी जगह पर नौकरी नहीं कर सकती थी। फिर उसने किसी के घर पर झाडू-पोछे का काम करना शुरु कर दिया। ऐसे में वह अपने बच्चे को खुद के बलबूते पालने लगी। कुछ महीने बाद अचानक एक अघोरी बाबा उसको रास्ते में मिले और उससे कुछ पैसे मांगने लगे। जिसके बाद उस महिला ने बाबा को कुछ पैसे दे दिए। फिर अघोरी ने उस महिला को आशीर्वाद देते हुए उसके घर की पूरी कहानी को बताया। जिसको सुनकर महिला को यकीन हुआ कि, यह उसके दुखों को दूर कर देंगे व इसकी आर्थिक स्थिति को भी संभाल देगें।

इन सब बातों को जानने के बाद वह महिला अघोरी बाबा से विनती करने लगी कि, आप मुझे ऐसा कोई उपाय बताए जिससे मेरी सारी परेशानियां दूर हो जाए। उसका दर्द सुनने के बाद अघोरी ने महिला को कुछ उपाए बताएं और कहा जब भी तूझे ऐसा लगे कि तेरी समस्या पूरी तरह से दूर हो चुकी है तू इसी जगह पर अपने बेेटे के साथ आ जाईयो। फिर कुछ दिनों बाद महिला को सबकुछ ठीक-ठाक लगने लगा और उसने सोचा कि, आज यदि अघोरी बाबा उसे मिलेंगे तो वह यह बदलाव उनको जरूर बताएगी। अचानक वह अघोरी बाबा उसको रास्ते में मिल गये। फिर महिला ने खुश होते हुए बताया कि, बाबा अब मेरी सारी समस्या धीरे-धीरे हल होती जा रही है। साथ ही मेरी आर्थिक स्थिति भी अच्छी हो गई है। दोनों जब आपसी बातचीत कर रहे थे, उसी दौरान वहां पर एक वैन रूकी और उसमें मौजूद कुछ लोगों ने बच्चे को उठाया और अपने साथ ले गये। फिर महिला ने पुलिस में शिकायत की पुलिस की तफ्तीश में पता चला कि, वह बच्चा किडनैप हुआ था और उसको बेरहमी तरीके से एक नाले के पास मार दिया गया। वह महिला यह खबर सुनकर सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई खुद भी मरने की सोचने लगी, लेकिन एक दिन फिर वह अघोरी रास्ते में मिला और कहने लगा बेटी चिंता मत कर सब ठीक होगा। यह सुनकर महिला बोली बाबा में कहां जाउं। यह दुनिया तो बहुत बड़ी है, लेकिन इस दुनिया में मेरा कोई नहीं।

आज तो हनुमान जी ने भी मेरा साथ छोड़ दिया मैं बहुत अकेली हूं। तब उस अघोरी बाबा ने कहा बेटी सब जल्द ही ठीक हो जाएगा। फिर महिला ने अघोरी से कहा कि, बाबा मुझे भी आपकी तरह जीवन बिताना है। मैं थक चुकी हूं दुनिया की मुंह माया से। यदि आप मुझे अपनी तरह नहीं बनाओगे तो मैं आज ही मौत को अपने गले लगा लूगीं। महिला का दुख देखकर बाबा ने कहा कि, ठीक है बेटी मैं तुझे ले जाऊंगा, लेकिन तू जानती है हम लोगों का घर सिर्फ श्मशान घाट ही है। महिला ने कहा कि, मैं कही भी चली जाऊंगी, लेकिन इस दुनिया में रहना नहीं चाहती। फिर अघोरी बाबा ने काफी विचार-विमर्श करने के बाद महिला को श्मशान ले गये और उसको अघोरियों की सारी साधना सिखाई। अब वह महिला इतनी शक्तिशाली अघोरी महिला बन गयी है दूर-दूर से लोग अपनी समस्या का निवारण करने के लिए उसके पास आते हैं। कहते हैं कि, किसी भी प्रकार की समस्या वह चुटकियों में ठीक कर देती है। आज वह अघोरी महिला बनकर लोगों का उद्दार कर रही है। अब वह अपनी जिंदगी में ठीक-ठाक तरीके से जी रही है। यदि आपको अघोरी दुनिया की यह जानकारी पसंद आई हो तो कमेंट बॉक्स में जय महाकाल और जय हनुमान जी जरूर लिखें।

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

Prabhubhakti
Logo
Enable registration in settings - general
Shopping cart