जब एक मुस्लिम ने तोडा शिवलिंग ,और फिर जो हुआ उसे देख गांव में आज तक है डर का माहौल

Deal Score0
Deal Score0

झारखंड के एक गांव के पास जंगल था। वही जंगल से लगकर एक शिवलिंग स्थित था , किसी को यह नहीं पता की वह शिवलिंग वह कहा से या , गांव के बड़े बुजुर्ग बताते है की बहुत सालो पहले ज़मीन फाड़ कर ही यह शिवलिंग बहार आया था और तभी से यह इसी स्थान पर स्थापित है । लोगों की आस्था और विश्वास कुछ इस प्रकार का था कि वह शिवलिंग में साक्षात शिव का वास है। प्रातः काल से ही वहाँ शिव भक्तों की भीड़ लगा करती थी। आसपास के लोग वहां शिव कीर्तन जैसे प्रसंगों का आयोजन करते थे।

लोग बताते हैं जो व्यक्ति सच्ची श्रद्धा से जो मांगे से उसकी हर मनोकामना को पूरा करते हैं। वहां के सभी छोटे बड़े किसान मौसम की पहली फसल शिवलिंग पर चढ़ाया करते कोई व्यक्ति नया वाहन खरीदे या किसी का विवाह समारोह किसी भी प्रकार का शुभ कार्य क्यों ना हो। शिव मंदिर से ही उसका प्रारंभ किया जाता। शिवरात्रि पर तो यहाँ भव्य कार्यक्र्म का आयोजन किया जाता है , मेला लगता है और कई लोग तो दुसरे गांव से भी यहाँ महादेव के दर्शन करने आते है।
सारागांव खुशी व श्रद्धा भाव से अपना जीवन व्यतीत कर रहा था। पर उसके बाद जो हुआ उसने सभी को झंकझोर कर रख दिया। परन्तु आगे बढ़ने से पहले आगे बढ़ने से पहले यदि आप हमारे चैनल पर नए है तो चैनल को सब्सक्राइब अवश्य कर दे और साथ ही नीचे दिए गए घंटी के बटन को दबाना ना भूले।

कुछ दिन बाद ही उस गांव में एक इमरान नाम का मुस्लिम व्यक्ति रहने आया। उसने गांव में रहने वाले लोगों से शिव की अनेक कहानियां और चमत्कारों के किस्से सुने। उसे किसी भी बात पर एक ही ना हुआ। आमिर ने लोगों की आस्था व श्रद्धा को अंधविश्वास का नाम तक दे दिया। इमरान धीरे धीरे लोगो की श्रद्धा और आस्था से ईर्ष्या भाव करने लगा था। इस कारन से इमरान ने सोचा की जब सारा गांव सो जायेगा तब मैं इस शिवलिंग को तोड़ दूंगा।

और फिर एक दिन मध्यरात्रि के समय सारागांव जब सो गया तब इमरान शिवलिंग के पास एक लोहे की बड़ी सरिया लेकर पहुंचा और प्रण लेते हुए कहता है की आज मैं इस शिवलिंग को तोड दूंगा। और फिर महादेव को चुनौती देकर चिल्लाते हुए बोलता है की मैं भी देखता हूं , कौन सा चमत्कार और महादेव मुझे रोक पाता है।

इमरान ने अपने सारे बल के साथ उस लोहे की सरिया से शिवलिंग पर वार किया परन्तु शिवलिंग को कुछ असर भजि नहीं पड़ता । जैसे ही इमरान ने दूसरा प्रहार किया तभी आसमान में बिजली कडक उठी और शिवलिंग के पास एक सर्प निकल कर आया जो शिवलिंग के पास अपना फन फैलाकर खड़ा हो गया। देखते ही देखते वहां कई सर्प और आ गए।

इमरान ने सर्पो को अपनी ओर बढ़ते हुए देखा। यह देख उसके हाथों में लोहे की सरिया छूट गई। आकाश मे कड़कती बिजली उस सरिया पर आ कर गिरी पड़ी जिससे उस सरिया के दो भाग हो गए। यह सारे प्रकरण को देखकर आमिर बहुत डर गया और वहां से भाग खड़ा हुआ , और वापस कभी गांव मैं तो क्या आसपास के इलाको मैं भी नज़र नहीं आया। अगली सुबह गांव वालों ने सारी घटना को देखा , सर्पो का झुण्ड एवं लोहे की सरिया के हुए दोनों टुकड़े वही मौजूद थे ,और यह सा देख सभी को ज्ञात हुआ कि कोई शिवलिंग तोड़ने आया था। सभी कहने लगे , महादेव ने उन सर्पो को भेज कर स्वयं की रक्षा स्वयं की है। ऐसे चमत्कार को देख सभी हैरान रह गए और फिर सभी ने हाथ उठाकर हर महादेव का जयकारा लगाया। जल्द ही यह बात आस पास के गांव में भी फ़ैल गयी दूर दूर से लोग महादेव के दर्शन के लिए आने लग गए। गांव शिव भक्तो से भर गया , लोगो की आस्था भी महादेव के प्रति और दृढ हो गयी।

दर्शको कैसी लगी आपको हमारी कहानी कमेंट बॉक्स में बताना ना भूले ,ऐसे ही रोचक तथ्यों एवं सत्य घटना पर आधारित कहानियों की जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करे और नीचे दिए घंटी के बटन को अवश्य दबा दे।

साथ ही यदि आपके पास भी किसी भी देवी देवता से जुडी कोई सत्य घटना है तो आप उसे डिस्क्रिप्शन में दिए नंबर पर हमारे साथ साझा कर सकते है।

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

Prabhubhakti
Logo
Enable registration in settings - general
Shopping cart