Featured! - 60%

Original Shaligram with Tulsi Mala Online

ये चमत्कारी चीज़ चमका देगी आपकी किस्मत, तुलसी के साथ रखने से खुश होती हैं मां लक्ष्मी

कड़ी मेहनत के बावजूद यदि आपको सफलता नहीं मिल रही है या फिर आप धन तो कमाते है लेकिन रुकता नहीं है तो इसके पीछे कई प्रकार के दोषों का कारण हो सकता है। इसलिए शास्त्रों में परिवार को न छोड़ने वाली गरीबी से निपटने के लिए कई प्रकार के उपायों का वर्णन किया गया है।

  • Simultaneous worship of Tulsi Mala and Shaligram Shila is worn to please Shani Dev and Lord Vishnu.
  • Keeping Tulsi Mala and Shaligram Stone brings happiness and peace to the house.

599.00

Added to wishlistRemoved from wishlist 0

Flat 10% OFF on Prepaid Orders | Coupon Code : PREPAID100

SKU: prabhubhakti388 Categories: , Tags: ,

Shaligram Stone के क्या फायदे है ?

  • इस प्रभावशाली शिला की पूजा करने मात्र से घर एवं कार्यालय में विष्णु जी के साथ महालक्ष्मी का निवास होता है।
  • शालिग्राम की पूजा हमेशा तुलसी के साथ ही करें। ऐसा करने से भगवान के आशीर्वाद से जल्द ही लाभ प्राप्त होता है।
  • इनका विवाह भगवती स्वरूप माँ तुलसी के साथ करने से सभी प्रकार के द्वेष, पारिवारिक कलेश, पाप, संकट, दुख, रोग आदि नष्ट हो जाते हैं।
  • भक्ति-भाव से माँ तुलसी एवं शालिग्राम का विवाह कराने से उतना ही पुण्य प्राप्त होता है जितना कन्यादान करने से मिलता है।
  • इनकी पूजा करने से तन, मन और धन से सम्बन्धित सभी प्रकार की परेशानियां दूर होती है।
  • जिस घर में भगवान शालिग्राम की शिला विराजमान होती है उस घर को तीर्थ के समान माना जाता है।
  • पूजा के समय भोग मे चढ़ाया हुआ चरणामृत का सेवन करने से भक्त को चारधामों का पुण्य फल मिलता है।
  • इनकी प्रतिदिन घर में पूजा करने से वहां के सभी वास्तु दोष और नकारात्मक शक्तियां नष्ट होती है

Original Shaligram की पूजा कैसे करे ?

  • पूजा में shaligram को स्नान कराकर चंदन लगाएं और तुलसी अर्पित करें। भोग लगाएं। यह उपाय तन, मन और धन सभी परेशानियां दूर कर सकता है।
  • विष्णु पुराण के अनुसार जिस घर में भगवान shaligram  हो, वह घर तीर्थ के समान होता है।
  • शालिग्राम नेपाल की गंडकी नदी के तल से प्राप्त होते हैं। शालिग्राम काले रंग के चिकने, अंडाकार पत्थर को कहते हैं।
  • पूजा में शालिग्राम पर चढ़ाया हुआ भक्त अपने ऊपर छिड़कता है तो उसे तीर्थों में स्नान के समान पुण्य फल मिलता है।
  • जो व्यक्ति शालिग्राम पर रोज जल चढ़ाता है, वह अक्षय पुण्य प्राप्त करता है।
  • शालिग्राम को अर्पित किया हुआ पंचामृत प्रसाद के रूप में सेवन करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है।
  • जिस घर में शालिग्राम की रोज पूजा होती है, वहां के सभी दोष और नकारात्मकता खत्म होती है।
Original Shaligram with Tulsi Mala Online
Original Shaligram with Tulsi Mala Online

599.00

Prabhubhakti
Logo
Enable registration in settings - general
Shopping cart