- 61%

Buy Online Original Trishakti Ring

  • त्रिशक्ति रिंग को पहनने से आपको ध्यान केंद्रित करने और मानसिक शांति पाने में मदद मिलती है।
  • त्रिशक्ति रिंग पहनने से आपकी सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ती है और आपका मान-सम्मान नई ऊंचाईयों तक पहुंचता है।
  • त्रिशक्ति रिंग के द्वारा आपका जीवन प्रतिकूल ग्रहों के हानिकारक प्रभावों से मुक्त रहता है।
  • हमारी हिन्दू परंपराओं में शंख, रुद्राक्ष और अष्टधातु का मिलन अत्यंत पवित्र माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जो कोई भी इस अंगूठी को पहनता है वह गंभीर बीमारी से मुक्त होता है।
  • यह जादुई अंगूठी अच्छा स्वास्थ्य, सुख, समृद्धि और मानसिक शांति प्रदान करती है।
  • कार्यक्षेत्र में भाग्य आपके साथ रहता है, और आपका दिमाग काम पर केंद्रित होता है।
  • इसके द्वारा आप बुरी नजर, काली-दृष्टि और जादू टोना से प्रतिरक्षित रहते हैं।
  • Trishakti ring removes negative energy from the body and harmonizes the atmosphere.
  • If any person is not getting success even after making full efforts, then that person must wear a Trishakti ring.
  • wearing a Trishakti ring which brings life wealth, and honor, because this locket is called Tridevi Mahakali.
  • Wearing a Trishakti ring (Trishakti ring benefits) gives you health, wealth, and you get desired results.

651.00

Flat 10% OFF on Prepaid Orders | Coupon Code : PREPAID100

SKU: prabhubhakti113 Categories: , Tag:

Trishakti ring महादेव शिव के तीन सबसे शक्तिशाली चिन्ह शंख, रुद्राक्ष और अष्टा-धातु से बनी हुई होती है, जिससे किसी भी बड़ी से बड़ी विपत्ति का निवारण किया जा सकता है। इतना ही नहीं, इस अंगूठी को पहनने मात्र से जीवन में सफलता के रास्ते में आने वाले सारे दोष दूर हो जाते है। इससे स्वास्थ्य में लाभ होता होता है, और शरीर स्वस्थ्य बना रहता है।

त्रिशक्ति अंगूठी क्यों पहनें?? ( Why you should wear Trishakti Ring? )

Bhagwan Shiv की महिमा कुछ इस प्रकार है की यदि एक बार किस पर पड़ जाये तो उस व्यक्ति के लिए यह धरती किसी स्वर्गलोक से कम नहीं है। इसी कारणवश भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए प्राचीन लिखित ताम्रपत्तों में Trishakti Ring का वर्णन दिया हुआ है। ऋषि- मुनियो ने ये बताया है कि जो कोई भी त्रिशक्ति अंगूठी को कलयुग में धारण करेगा उस पर भगवान शिव की कृपा सदा बनी रहेगी। यह अंगूठी आपके जीवन में उमंग पैदा कर आपके मन को अंदर से खुश करती है।

इसके द्वारा आपके आसपास सकारात्मक ऊर्जा का एक कवच बन जाता है जिसके स्वरुप बुरी नजर, अनचाही दुर्घटनाएं, आर्थिक तंगी, मतभेद और मानसिक परेशानियां आपको छू भी नहीं पाती है। साथ ही साथ ज्योतिष में भी Trishakti Anguthi का विस्तार से वर्णन दिया हुआ है। इसमे बताया गया है की Trishakti Ring online आपकी कुंडली में स्थित दोषों के दुष्परिणाम को दूर करती है जिससे आपके जीवन में सुख और समृद्धि बनी रहती है। इस अंगूठी को किसी भी उम्र के जातक पहन सकते है, चाहे वो वृद्ध हो या बच्चे, हर किसी को इस अंगूठी का लाभ बराबर मिलता है। यह एक अत्यंत चमत्कारी अंगूठी है जिसे जल्द स जल्द धारण करना चाहिए।

https://youtu.be/M76ihJ4kbtQ
त्रिशक्ति अंगूठी के लाभ ( Trishakti Ring Benefits in hindi )

1. शंख, रुद्राक्ष और अष्टधातु के संगम को को हमारे शास्त्रों में अत्यधिक पवित्र माना जाता है। कहा गया है कि जो भी इस अंगूठी को पहनता है उसे कोई भी गंभीर बीमारी नहीं होती है।

2. इस अंगूठी को धारण करने से एकाग्रता और मानसिक शांति प्राप्त होती है।

3. यह चमत्कारी अंगूठी अच्छा स्वास्थ्य, सुख – समृद्धि और मन को शांति प्रदान करती है।

4. कार्य-क्षेत्र मे भाग्य आपका साथ देता है और आपका मन आपके कार्य में लगता है।

5. यह कुंडली ने उपस्थित प्रतिकूल ग्रहों की ऊर्जा और उनके नकारात्मक प्रभावों को आपके जीवन से दूर करती है।

6. बुरी दृष्टि, काली नजर और जादू टोने का आप पर कोई असर नहीं होता है।

7. इसको धारण करने से आपका समाज में पद बढ़ता है और प्रतिष्ठा का विकास पूर्ण रूप से होता है।

त्रिशक्ति अंगूठी पूजा विधि ( How to worship Trishakti Ring? )

1. इस अंगूठी को धारण करने के लिए किसी भी सोमवार के दिन का चयन कर ले।

2. दिन चढ़ने से पहले स्नान-आदि कर ले और भगवान शिव की मूर्ति या shivling के सामने आसन लगा के बैठ जाये।

3. अब एक कलश या लोटा ले और मुट्ठी भर गेंहू के ऊपर उसे रख दें।

4. कलश के ऊपर एक कटोरी रखें और उस पर रोरी से ॐ बना दें, और बाद में उसके ऊपर original trishakti ring रख दें।

5. अब अंगूठी पर गंगाजल छिड़के और रोरी, पुष्प आदि से उसकी पूजा करें।

6. अंगूठी को सिद्ध करने के लिए rudraksha mala से 108 बार ॐ नमः शिवाये का जाप करें और ऐसा करने के बढ़ हाथ जोड़कर भगवान के सामने अपनी इच्छा की प्राप्ति के लिए विनती करें।

7. ऐसा करने के पश्चात् इस अंगूठी को धारण कर ले।

Buy Online Original Trishakti Ring
Buy Online Original Trishakti Ring
Buy Online Original Trishakti Ring

651.00

Prabhubhakti
Logo
Enable registration in settings - general
Shopping cart