Parad with Panchmukhi Rudraksha Mala

पारे को प्राकृतिक रूप से प्रबल ऊर्जा प्रदान करने वाला रासायनिक तत्व कहा गया है। यह भगवान शिव का स्वरूप माना गया है। पारे से बने शिवलिंग को समस्त प्रकार की वस्तुओं से बने शिवलिंगों में सर्वश्रेष्ठ कहा गया है और इसकी पूजा सर्वमनोकामना पूर्ण करने वाली कही गई है। मूलत: पारा तरल रूप में पाया जाता है, लेकिन इसमें स्वर्ण, तांबा के साथ अन्य धातुएं और जड़ी-बूटियां मिलाकर इसे ठोस रूप दिया जाता है।

वैदिक ग्रंथों में पारे को संसार के समस्त राग, द्वेष, विकार का विनाशक माना गया है। जो लोग अध्यात्म की राह पर चलना चाहते हैं, उनके लिए पारद शिवलिंग की पूजा अवश्य करना चाहिए।

Read more at: https://hindi.oneindia.com/astrology/importance-parad-shivling-461363.html

2,100.00