Parad Shivling

दोस्तों शाश्त्रो में पारद शिवलिंग की विशेषता बताते हुए कहा है की जिस घर में भी पारद शिवलिंग हो उस घर से बिमारी, अकाल मृत्यु , परेशानी तथा गरीबी हमेसा हमेसा के लिए दूर चले जाती है. ऐसा इसलिए क्योकि पारद की उतपत्ति महादेव के शुक्र से हुई थी इसलिए शास्त्रों में पारद शिवलिंग को साक्षात् महादेव शिव ही बताया गया है.

ऐसा माना जाता है की पारद में ब्रह्मा, विष्णु तथा शिव तीनो देव ही दिव्य रूप में विराजमान होते है. इसलिए यह जिस घर में भी होता है वहा सभी देवी देवताओ की कृपा होती है.

2,100.00 1,500.00

जल्दी आर्डर कीजिये सिर्फ कुछ ही घंटे बाकी ⏳

COD +  FREE SHIPPING + 100% Original
days
0
0
hours
0
0
minutes
0
0
seconds
0
0

दोस्तों मनुष्य के जीवन में सुख और दुःख हमेसा लगा रहता है. परन्तु कभी कभी ग्रहो की अशुभ दशा के कारण हम बहुत सारी परेशानियों से घिर जाते है. जैसे पति पत्नी के बीच लड़ाई का बहुत अधिक बढ़ जाना, घर में अक्सर पैसो की कमी अथवा कर्ज का अधिक बढ़ जाना, या कोई व्यक्ति काफी लम्बे समय से अक्सर बीमार है, अथवा काम काज में फायदा काम और अधिक घाटा हो रहा है तो दोस्तों यह सभी ग्रह चाल की अशुभ दशा और शुक्र की मार आप पर होने के कारण होता है.

दरअसल दोस्तों ज्योतिष में बताया गया है की शुक्र ग्रह को सुख और वैभव का कारक ग्रह माना गया है. किसी भी व्यक्ति के जीवन में बिना शुक्र के न तो धन सुख मिल सकता है और ना ही एक खुशाल वैवाहिक जीवन. दोस्तों अन्य ग्रह आपको साधन तो दे सकते है परन्तु सुख नहीं दे सकते है. इसलिए शुक ग्रह का आपके अनुकूल होना बहुत ही आवश्यक है.

और दोस्तों यदि आप शुक्र को अपने अनुकूल बनाना चाहते है तो ज्योतिष ही नहीं बल्कि वास्तु शास्त्र भी यही कहता ही की कुंडली में शुक्र को मजबूत करने का सबसे बढ़िया और शक्तिशाली उपाय है पारद शिवलिंग को अपने घर में स्थापित करना. पारद शिवलिंग के नक्षत्रीय प्रभाव से शुक्र आपके लिए मजबूत होता है जिससे स्वतः ही आपके लिए सुख ऐश्वर्य तथा धन आने के सारे मार्ग खुल जाते है. इतना ही नहीं

शिवमहापुराण में ये बताया गया है की खुद महादेव शिव ने यह कहा है की करोड़ो शिवलिंग के पूजन से जो फल व्यक्ति को प्राप्त होता है उससे भी करोड़ो गुना अधिक फल मेरे पारद शिवलिंग रूप के केवल दर्शन मात्र से आपको प्राप्त हो जायेगा. यहां तक की कुछ अनजाने में हुई गलतियों का पाप भी इसके स्पर्श मात्र से नष्ट हो जाता है. घर में यदि आप रोज सुबह इससे पूजा करे तो सौ अश्वमेध यह करने के बराबर आपको फल प्राप्त होता है.

दोस्तों पारद शिवलिंग को आप घर में ऐसे ही रख सकते है इसे स्थापित करने की आवश्यकता नहीं है. क्योकि इन्हे स्वयंभू बताया गया है. आप अपने घर में पारद शिवलिंग को अपने घर के मंदिर में किसी भी शुभ दिन रख सकते है परन्तु सोमवार के दिन इसे घर में रखना अधिक लाभप्रद होगा. दोस्तों पारद शिवलिंग का प्रभाव आपके घर पर और आप पर तब और अधिक फायदा दिखता है जब यह अभिमंत्रित होता है. दोस्तों हमारे ज्ञानी पंडितो द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय मन्त्र से इस पारद शिवलिंग को अभिमंत्रित किया गया है. अतः इसका प्रभाव घर में रखने के 24 घंटे के अंदर ही दिखने लगता है.

Specification: Parad Shivling

Weight 0.250 g
Dimensions 6 × 5 × 4 cm
Parad Shivling

2,100.00 1,500.00

Prabhubhakti
Enable registration in settings - general