Panchmukhi Hanuman Kavach

1,250.00

खुद भगवान् राम ने रचा था यह अद्भुत हनुमान कवच… गले में धारण करते ही दूर होने लगते है सारे संकट

श्री हनुमान कवच अपने आप में भगवान की शक्ति रखता है जिसके प्रभाव से बुराइयों पर जीत पाई जा सकती है | हनुमान भक्त इस कवच की अशीम शक्ति को जानते है |

इस कवच कीशक्ति को मन को एकाग्रः करके अशीम साधना से जगाया जासकता है | यह कहा जाता है की यह महावीर हनुमान का शक्तिग्रह है | यह कवच स्वं भगवान श्री रामचन्द्र द्वारा रचा और पढ़ा गया है |

हनुमान जी की पूजा से जीवन में बड़े से बड़े दु:खों से छुटकारा पाया जा सकता है. लेकिन हनुमान कवच के पाठ से मरता हुआ प्राणी जी उठता है और रोग दु:ख आदि से छूटकारा पा लेता है. इतना ही नहीं किसी भी काम में सफलता के लिए भी हुनामन कवच का पाठ किया जाता है.

बड़े से बड़े कार्य को सिद्ध करने के लिए हनुमान कवच उपयोगी है. त्रेता युग में महाबली रावण से युद्ध करते समय स्वयं भगवान राम ने भी हनुमान कवच का पाठ किया था. यह हनुमान कवच की रचना भी स्वयं भगवान श्रीरामचंद्र जी ने ही की है.

श्री हनुमान कवच अपने आप में भगवान श्रीराम की शक्ति रखता है जिसके प्रभाव से बुराइयों पर जीत पाई जा सकती है. इस कवच से भूत, प्रेत, चांडाल, राक्षस व अन्य बुरी आत्मायो से बचाव किया जा सकता है. यह कवच आपको टोने टोटके से भी बचाता है और आपकी रक्षा करता है. काला जादू इस पर पूरी तरह पराजित हो जाता है. इस कवच का पूर्ण लाभ से जीवन के सभी शोक मिट जाते है.

SKU: Prabhu019 Categories: ,

दोस्तों अगर आप भी लाखो प्रयासों के बावजूद बस उतना ही कमा पा रहे है जिससे बस आप महीने भर का गुजरा कर सके. हमेसा घर पर पैसो की कमी रहती है अथवा कर्ज आदि से आप परेशान है. जिंदगी में इतनी परेशानिया आ चुकी है की आप हमेसा चिंता में डूबे रहते है . बीमारी या गरीबी ने घर पर कब्जा जमा लिया है. तो आज हम आपको एक ऐसे उपाय के बारे में बताएंगे जो आपकी हर परेशानी समस्या का अंत कर देगा. सबसे पहले तो दोस्तों क्या इस उपाय का सच में फायदा होगा हम आपको उसके बारे में पहले बता दे . ताकि आप निश्चिन्त होकर इसे करे. दरअसल दोस्तों यह हमारे ही एक सब्सक्राइबर की जीवनी है. वासुदेव राम बिहार के एक छोटे से गांव में रहते है अपनी बीवी और 2 बच्चो के साथ . 2018 सितम्बर के महीने में ही उनकी पत्नी किसी बिमारी से ग्रसित हो गई. पहले कुछ दिन तो वासुदेव को लगा की यह कोई समान्य सी बीमारी है इसलिए वह अस्पताल नहीं ले गया. परन्तु जब स्थिति ज्यादा ही खराब हुई तो वासुदेव अपनी पत्नी को नजदीक के अस्पताल में ले तो गया परन्तु बिमारी समझ ना आने पर उस शहरी अस्पताल अपनी पत्नी को ले जाना पड़ा. जहा के खर्चे इतने अधिक थे की धीरे धीरे उसकी जो जमा पूंजी थी सब अस्पताल के बिलो में जाने लगे. ऊपर से बगैर माँ के बच्चो की भी स्थिति दयनीय हो चुकी. वासुदेव अब बहुत ज्यादा तनाव ग्रस्त हो चुका था. अस्पताल में पत्नी का ख्याल रखने के लिए वह काम में भी नहीं जा सकता था. एक दिन ज्यादा परेशानी में होने के कारण वह रोने लगा और तभी उसके पास एक बुजुर्ग व्यक्ति जो करीब 60 -67 साल का था आया .

पहले तो उसने सारी परेशानी वासुदेव की सुनी और अंत में हनुमान जी की महिमा के बारे में बताते हुए पांचमुखी हनुमान यंत्र को धारण करने के लिए कहा. उस बुजुर्ग व्यक्ति ने वासुदेव से कहा की में भी इसी तरह की परेशानी से गुजर चूका हुआ परन्तु जब से पंचमुखी हनुमान यंत्र में धारण किया है तब से हनुमान जी की कृपा से मेरा परिवार में सुखी सम्पन्न है. वासुदेव संकट में था इसलिए उसे उस समय जो भी मार्ग दिखाई दे रहा था वह उन सब को करने को तैयार था.

उसने मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में जाकर हनुमान जी की पूजा अर्चना करि. तथा हनुमान जी का नाम लेकर पंचमुखी हनुमान यंत्र को धारण किया. दोस्तों हनुमान जी की महिमा वासुदेव पर ऐसी हुई की केवल 3 – 4 दिन में ही उसकी पत्नी का स्वास्थ्य सही होने लगा और केवल के हफ्ते में ही वासुदेव की पत्नी स्वस्थ थी और वे अस्पताल से घर आ चूक थे. वासुदेव फिर से काम पर जाने लगा और अब उसकी आमदनी भी अच्छी हो चुकी थी. हनुमान जी की कृपा से वासुदेव का परिवार फिर से सुखी हो गया था.

दोस्तों ऐसी है कष्ट भंजन हनुमान तथा उनका साक्षात् आशीर्वाद पंचमुखी हनुमान यंत्र की महिमा.भगवान श्री राम के सभी काज सवारने वाले बजरंग बलि हनुमान जी का साक्षात् रूप है यह पंचमुखी हनुमान यंत्र. जिसे केवल धारण करने से ही हर परेशानी हर दुःख बाँधा हनुमान जी आपके जीवन से दूर कर देते है. पंचमुखी हनुमान यंत्र का जो निर्माण होता वह अष्ट धातु से निर्मित होता ही. जो की सकरात्मक ऊर्जा को आकर्षित करने का सबसे उत्तम साधन है. जब आप सकरात्मक ऊर्जा से घिरे होते है तो जिस किसी भी काम को आप करते है उसमे सफलता आपको जरूर ही मिलती है. तथा यह आपको बिमारी और ऊपरी बला यानी काला जोड़ भुत प्रेत और बुरी नज़र आदि शक्तियों से बचाता है.

इस माला के पृष्ठ भाग में पंचमुखी हनुमान यंत्र अंकित किया गया है जो की हनुमान जी के सवा लाख मन्त्र जाप के बराबर शक्ति रखता है. ऐसे में जो भी इस माला को धारण करता है खुद हनुमान जी उसकी रक्षा के सदैव उसके पास रहते है.

Weight 0.04 g