Featured! - 89%

Buy Original Narmadeshwar Shivling Locket

  • इस शिवलिंग की पूजा करने से जीवन के बंधनों से मुक्ति और मोक्ष मिलता है।
  • इस लॉकेट को गले में धारण करने या नियमित रूप से इसकी पूजा करने से मनुष्य पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।
  • यह जातक के मन को सुखद रखता है और उदास भावनाओं के प्रसार को रोकता है, जिसके परिणामस्वरूप घर के सदस्यों के बीच प्रेम बढ़ता है, और घरेलू विवाद के जोखिम का नाश होता है।
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा करने से सभी प्रतिष्ठित कार्य पूर्ण होते हैं।
  • इसके द्वारा मन मे शांति का भाव आता है, और परिणामस्वरूप एकाग्रता बढ़ती है।
  • इसके फलस्वरूप हर कार्य में पूरी तरह मन लगा रहता है और सफलता मिलती है।
  • इस लॉकेट से बिगड़ते हुए काम भी बनने लगते है
  • इस शिवलिंग को देखने मात्र से पूरे शरीर में एक सुखद ऊर्जा उत्पन्न होती है, और उपासक अहंकार, क्रोध, चिंता और निराशा से मुक्त होते हैं।
  • घर में प्रेम की आभा को जीवित रखने के लिए परिवार में सभी को नर्मदा के पावन पत्थर से बने इस लॉकेट को धारण करना चाहिए।
  • You buy Narmadeshwar Shivling Locket online and get rid of sorrows and attain glory.
  • Destiny arises by offering blue lotus on Narmadeshwar(नर्मदेश्वर) Shivling Locket.
  • Anointing of Panchamrit on the Narmadeshwar Shivling Locket leads to the attainment of a virtuous and fortunate son and by offering mustard oil, the enemy is destroyed.

349.00

Hurry Up ! Only Few Hours Left.

  • 100% Original + FREE SHIPPING
  • Cash on Delivery Available
days
0
0
hours
0
0
minutes
0
0
seconds
0
0

भगवान् शिव और प्रकृति का एक अद्भुत संयोग

एक अद्भुत संयोग जिसका अंदाजा सिर्फ इसी बात से ही लगाया जा सकता है की नर्मदेश्वर शिवलिंग पूरी दुनिया में सिर्फ एक ही जगह पाया जाता है और वो है नर्मदा नदी के किनारे बसे बकवान नामक गाँव में.

ऐसा माना जाता है की एक मिटटी के लिंग की पूजा करने से जो फल मिलता है उससे सौ गुना ज्यादा फल नर्मदेशर शिवलिंग की पूजा करने से मिलता है. इसिलए घर में नर्मदेश्वर शिवलिंग का रखना शुभ माना गया है. नर्मदेश्वर शिवलिंग अलग अलग साइज के होते है और आपको ये ध्यान रखना है की जो शिवलिंग आप घर में रखने जा रहे है वो अंगूठे के आकार जितना होना चाहिए और बहुत अधिक बड़ा नहीं होना चाहिए

Narmadeshwar shivling locket देवों के देव महादेव और प्रकृति का एक अनूठा मिलन है। भगवान शिव ने आपसी सद्भाव और स्नेह बढ़ाने के लिए मानवता को एक उत्तम शस्त्र के रूप में भाग्य से परिपूर्ण यह शिवलिंग प्रदान किया है। यह पवित्र नर्मदेश्वर शिवलिंग पूरे ब्रह्मांड में केवल नर्मदा के तट पर पाया जाता है।

क्यों धारण करे नर्मदेश्वर लॉकेट ?

हिन्दू पुराणों में बताया गया है की नर्मदा नदी के कण कण में शंकर का वास होता है और यह देश की ऐसी नदी है जो विशालकाय पर्वतों को चीरते हुए पूर्व से पश्चिम की ओर उलटी दिशा में बहती है। देश की अन्य नदियों में मिलने वाले पत्थर पिंड के रूप में नहीं मिलते हैं। इससे यह प्रमाणित होता है कि केवल नर्मदा नदी पर ही शिव कृपा है। प्रकर्ति के इस अद्भुत संयोग का अंदाजा सिर्फ इसी बात से ही लगाया जा सकता है की नर्मदेश्वर शिवलिंग पूरी दुनिया में सिर्फ एक ही जगह पाया जाता है और वो है नर्मदा नदी के किनारे।

यदि आप बिगड़ते हुए काम, व्यवसाय की चिंतजानक हालत, नौकरी छूट जाना, शादी ना होना, पारिवारिक कलेश आदि से तंग आ चुके है, और एक ऐसे माध्यम की तलाश मे है जो आपके उलझे हुए जीवन को बहते हुए पानी की तरह निर्मल कर दे तो आप narmadeshwar shivling locket की मदद से भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न कर सकते हैं और साथ ही उनका आशीर्वाद भी प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि भगवान शिव पूर्ण रूप से भोले भंडारी हैं, जो अपने भक्तों पर प्रसन्न होके शीघ्र ही सुखद परिणाम देते हैं। नर्मदेश्वर शिवलिंग लॉकेट धारण करने वाले भक्त से भगवान शिव का विशेष लगाव होता है और इसे धारण करने वाले की भोलेनाथ अपने साथ रहकर निरंतर रक्षा करते हैं। नर्मदा नदी के तट पर खोजे गए ये रहस्यमय पत्थर सबसे अलग और चमकदार होते हैं। यह प्रवाह के कारण गोलाकार और अंडाकार जो जाते हैं। इसके बाद, शिल्पकारों द्वारा इन पत्थरों को एकत्र किया जाता है और फिर बाद मे इन्हे तराशकर शिवलिंग का रूप प्रदान किया जाता है। यह शिवलिंग इतने प्रसिद्ध है की इन्हे दुनिया भर में भेजा जाता हैं।

 

नर्मदेश्वर लॉकेट क्यों प्रसिद्ध है?

कहा जाता है कि मिट्टी के लिंग की पूजा करने से narmadeshwar pendant की पूजा करना सौ गुना अधिक लाभकारी है। नतीजतन, घर में किसी भी रूप में narmada locket का होना शुभ माना जाता है। यह स्वतः स्पष्ट है कि narmada shivling pendant को आप गले मे धारण करने के साथ- साथ इसे अपने घर के मन्दिर मे भी स्थापित कर सकते है। यह एक अमूल्य लॉकेट है। इसे बच्चे, बूढ़े, पुरुष और महिला सब पहन सकते हैं। नर्मदा शिवलिंग लॉकेट के माध्यम से आपके जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है, और इसी तरह इस लोकेट के माध्यम से सकारात्मक ऊर्जा साधक के अस पास एक सुरक्षा का कवच बना लेती है जिसकी कृपा से वह अपने परिवेश मे तरक्की प्राप्त करता है।

Narmadeshwar Shivling Locket
narmadeshvar Shivling with silver chain

नर्मदेश्वर शिवलिंग के फायदे

नर्मदेश्वर शिवलिंग की खासियत यह है कि यह प्राकृतिक रूप से ही बनता है। इसलिए यह स्वयंसिद्ध शिवलिंग माना जाता है और इनके केवल दर्शन भर ही भाग्य संवारने वाला बताया गया है और यदि आप इसे धारण कर लेते है तो आपके भाग्य में आ रही रूकावट अपने आप दूर होने लगती है।

  • नर्मदेश्वर शिवलिंग के पूजन से आपको शांति की प्राप्ति होती है और आपका मन सकारात्मक विचारों से भर जाता है।
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग के शुभ प्रभाव से आपके संबंधों में शांति और प्रेम बना रहता है।
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग के पूजन से मोक्ष की प्राप्ति होती है।
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की ऊर्जा से तनाव, अहंकार में कमी आती है।
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग का हार धारण करने वाले व्यक्ति के मन से नकारात्मक विचार दूर हो जाते हैं और वह व्यक्ति उच्च विचारों से भर जाता है।
  • इस शिवलिंग लॉकेट को पहनने से जातक को अधिक आत्मविश्वास मिलता है, जिससे वह बिना विचलित हुए अपने कार्य पर ध्यान केंद्रित कर पाता हैं।
  • इस अमूल्य लॉकेट को धारण करने से व्यक्ति को सुख, सौभाग्य और शांति की प्राप्ति होती है।
  • इस लॉकेट को धारण करने वाला व्यक्ति सभी बीमारियों और शारीरिक समस्याओं से मुक्त होता है।
  • यह लॉकेट किसी के लिए भी सौभाग्य लाने की एक अचूक विधि है।
  • कहा जाता है कि जो कोई भी इसे पहनता है उसे अपना आदर्श जीवन साथी मिल जाता है।
  • नर्मदा नदी के जादुई पत्थरों से निर्मित शिवलिंग को धारण करने से व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक समस्याओ से मुक्ति मिलती है।

नर्मदेश्वर शिवलिंग पूजा विधि

बहुत ही आसान विधि के द्वारा आप इसे धारण कर सकते है। आर्डर करने के बाद जब आपको यह प्राप्त होगा तो इसकी पूजा करने के लिए पूर्व दिशा की ओर मुख करके आसन पर बैठकर एक बड़े कटोरे या थाली में रखकर ‘ॐ नम: शिवाय’ का जप करते हुए जल, कच्चा दूध या गंगाजल से स्नान कराएं।

आपको बता दें कि कोई भी नर्मदेश्वर शिवलिंग तब तक व्यर्थ है जब तक कि इसे अभिमंत्रित न किया जाए।

  1. Narmadeshwar shivling को स्थापित करने से पहले स्नान करके शुद्ध हो जाएं।
    अपने पूजा स्थल को साफ करें और उस पर गंगाजल छिड़कें।
  2. किसी भी पवित्र स्थान या पूजा स्थल पर पीले कपड़े के ऊपर शिवलिंग लॉकेट को रख दें।
  3. शिवलिंग के लॉकेट की पूजा के लिए केवल उत्तर या पूर्व दिशा का ही प्रयोग करें।
  4. इस लॉकेट की रोरी-चन्दन से भक्ति भाव के साथ पूजा करने के बाद ‘ॐ नमः शिवाय’ मंत्र का 108 बार जाप करें।
  5. इस शिवलिंग को आप सोमवार या किसी भी चंद्र नक्षत्र जैसे रोहिणी, हस्त या श्रवण नक्षत्र में धारण कर सकते है।
Narmadeshwar Shivling Locket
Buy Original Narmadeshwar Shivling Locket
Buy Original Narmadeshwar Shivling Locket

349.00

Prabhubhakti
Logo
Enable registration in settings - general
Shopping cart