Maa Kali Kavach Brass Pendant-Dakshina Kali Kavach

  • Regular recitation of Maa Kali Kavach (माँ काली कवच) provides peace of mind and keeps away all the evil from your life.
  • Dakshina kali kavach will remove the clouds of darkness that have enveloped your life for so long and empower you to achieve your greatest in all areas.
  • MahaKali siddha kavach extreme powerful enemy protection yantra and kali kavach mantra.

3,199.00 249.00

Hurry Up ! Only Few Hours Left.

  • 100% Original + FREE SHIPPING
  • Cash on Delivery Available
days
0
0
hours
0
0
minutes
0
0
seconds
0
0
Maa kali kavach

Product Description:

  • Size: 3 cm
  • Color: Golden
  • Package Dimensions: 1.5 x 1.5 x 0.2 inches
  • Item Weight:  0.16 ounces
  • In the Box: Kali Kavach  Locket + Chain

Key Points:

  • Product will be delivered in 3-7 working days.
  • Actual color might vary slightly from the images shown.
  • We request that you should provide complete address at which someone will be present to receive the package.

सभी नकारात्मक शक्तियों का होगा विनाश, कोई भी दुष्ट साया आपके आस पास नहीं करेगा वास। माता का सदैव आशीर्वाद रखे अपने साथ, आर्डर करें आज ही Maa Kali Kavach

Kali Kavach क्यों धारण करें ?

जो भी भक्त माँ काली की सच्चे मन से उपासना करता है उस भक्त से महाकाली बहुत ही जल्दी प्रसन्न हो जाती है और उनकी इच्छा पूरी करती है। क्यूंकि कहा जाता है की कलयुग में माँ कलिका भी एक जाग्रत देवी देवतावों में से एक है। माँ काली कवच को धारण करने से आपकी सभी मनोकामना पूरी होती है, और माँ काली की आपके ऊपर हमेशा कृपा बनी रहती है। काली कवच को लोग दक्षिणा काली कवच (Dakshina kali kavach) के नाम से भी जाना जाता है।
माँ काली की कृपा पाना इतना आसान नहीं है परन्तु आप Kali Kavach को धारण करके उनका आशीर्वाद प्राप्त कर सकते है। काली कवच की महिमा का व्याख्यान हमारे धर्म पुराणों में भी किया गया है आप निचे लिखे श्लोक और उसके भावार्थ से समझ सकते है की काली कवच कितना लाभकारी है-

श्लोक-
” रहस्यं शृणु वक्ष्यामि भैरवि प्राणवल्लभे।
श्रीजगन्मंगलं नाम कवचं मंत्रविग्रहम्।
पठित्वा धरयित्वा च त्रैलोक्यं मोहयेत् क्षणात् । “

भावार्थ – भैरव ने कहा-हे प्राण वल्लभे! श्री जगन्मंगलनामक काली कवच के बारे में कहता हूँ। सुनो! इसका पाठ करने अथवा इसे धारण करने से शीघ्र त्रिलोकी को भी मोहित किया जा सकता है।

महाकाली कभी भी अपने भक्तों को निराश नहीं करती है वह सदैव ही अपने भक्ति की पुकार सुनती है परन्तु यदि किसी भी भक्त से माता की पूजा अर्चना में कोई कमी रह जाती है तो माता इसका बहुत ही भयंकर दंड देती है इसलिए माँ काली की पूजा या उपसाशना हमेशा किसी सिद्ध पुरुष से जानकारी लेकर ही करें। वैसे तो महाकाली की उपसना ज्यादातर तांत्रिक ही करते है जिनको माता काली के सभी मंत्रो का सही से ज्ञान होता ह। तांत्रिको या सिद्ध पुरुषो का मानना है की आम लोगो को बिना सही जानकारी के काली के मंत्रो का जाप नहीं करना चाहिए क्यंकि ज्ञान हिन् होकर मंत्रो का जाप करने से आपके ऊपर संकट भी आ सकता है और माता काली आपसे से रुष्ट हो सकती है, परन्तु आम लोग भी माता काली की कृपा पाना चाहते है ऐसे लोगो के लिए Kali Kavach का निर्माण किया गया है। जिसको धारण करके आप महा काली की कृपा पा सकते है, अपने सत्रुवों का नाश हो सकता है, और धन आदि सम्बंदित समस्याओं से मुक्ति तुरंत पा सकते है।

maa kali

Kali Kavach Benefits (काली कवच को धारण करने के लाभ ) -

  • ऐसी बीमारियां जिनका इलाज संभव नहीं है, वह भी काली की पूजा से समाप्त हो सकती है।
  • Maa Kali Kavach से सभी प्रकार की बीमारिया आपसे दूर रहती हैं।
  •  Maa Kali Kavach से काले जादू, टोने-टोटकों का प्रभाव नहीं पड़ता।
  •  Maa Kali Kavach बुरी आत्माओं से रक्षा करता है।
  •  Maa Kali Kavach से आप कर्ज से छुटकारा।
  •  Maa Kali Kavach से आप बिजनेस में सफलता प्राप्त कर सकते है
  •  Kali Kavach आपके संबंधों में आ रहे तनाव को दूर करता हैं।
  •  Kali Kavach बेरोजगारी, करियर या शिक्षा सफलता दिलाता है।
  •  Kali Kavach से कारोबार में लाभ और नौकरी में प्रमोशन होता है।
  •  Kali Kavach संकट को आपसे दूर रखता है।
  •  Kali Kavach से शनि-राहु की महादशा या अंतरदशा, शनि की साढ़े साती, शनि का ढइया का आप पे कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।
  •  Kali Kavach पितृदोष और कालसर्प जैसे दोषों को दूर करता हैं।

काली कवच को धारण कैसे करें-

माँ काली की उपासना शुक्रवार के दिन की जाती है और शुक्रवार का दिन ही काली कवच को धारण करना अच्छा फलदायक होगा लेकिन निचे दिए गए निर्देशों का अवस्य पालन करें और अपने ग्रह काल के बारें में जरूर जान ले की, आपके ग्रह काल आपके अनुकूल है या नहीं –

  • सर्वप्रथम शुक्रवार के दिन आप शुबह स्नान आदि करने के बाद, स्वच्छ वस्त्र धारण करके माथे पे लाल तिलक लगाए।
  • माता की प्रतिमा के सामने दिप जलाये।
  • लाल पुष्प माँ काली को अर्पण करें
  • आप १०८ बार काली कवच मंत्र (kali kavach mantra) “ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै:” का जाप करें यदि आप यह मंत्र नहीं जाप कर सकते है तो आप केवल माँ काली के नाम के १०८ बार जाप करें।
  • मंत्र जाप के बाद काली कवच को धारण करें और अपने मन की इच्छावों ध्यान करते हुए माँ काली का आवाहन करें ।
  • कवच धारण करने के बाद पांच प्रकार के मीठे पकवान का भोग लगाए, यदि आप समर्थ ना हो तो केवल मिश्री के दाने भी माँ को भोग के रूप में चढ़ा सकते है।

ध्यान रहे की माँ काली अपने भक्तों की जीतनी जल्दी पुकार सुनती है उतनी ही जल्दी उनके गलतियों के लिए दंड भी देती है इसलिए कृपया पूरी सावधानी और विधि पूर्वक माँ की उपासना करें और kali kavach को धारण करें।

Related Products:

Specification: Maa Kali Kavach Brass Pendant-Dakshina Kali Kavach

Weight 49 g

You may also like…

Best price
Notice: Undefined index: loop in /var/www/html/wp-content/plugins/duracelltomi-google-tag-manager/integration/woocommerce.php on line 933
Buy Mahashakti Indra Kavach Online
mahashakti indra kavach

Buy Mahashakti Indra Kavach Online

3,199.00 299.00
Best seller
Notice: Undefined index: loop in /var/www/html/wp-content/plugins/duracelltomi-google-tag-manager/integration/woocommerce.php on line 933
Buy Original Narmadeshwar Shivling Locket
narmadeshvar Shivling with silver chain
Maa Kali Kavach Brass Pendant-Dakshina Kali Kavach
Maa Kali Kavach Brass Pendant-Dakshina Kali Kavach

3,199.00 249.00

Prabhubhakti
Enable registration in settings - general